Skip to content

संदेशे आते हैं Sandese Aate Hai Lyrics in Hindi Song Download PDF Free – Border

    संदेशे आते हैं लिरिक्स इन हिंदी

    हो हो हो..
    संदेशे आते हैं
    हमें तड़पाते हैं
    तो चिट्ठी आती है
    वो पूछे जाती है
    के घर कब आओगे
    के घर कब आओगे
    लिखो कब आओगे
    के तुम बिन ये घर सूना सूना है
    संदेशे आते हैं
    हमें तड़पाते हैं
    तो चिट्ठी आती है
    वो पूछे जाती है
    के घर कब आओगे
    के घर कब आओगे
    लिखो कब आओगे
    के तुम बिन ये घर सूना सूना है

    किसी दिलवाली ने
    किसी मतवाली ने
    हमें खत लिखा है
    ये हमसे पूछा है
    किसी की साँसों ने
    किसी की धड़कन ने
    किसी की चूड़ी ने
    किसी के कंगन ने
    किसी के कजरे ने
    किसी के गजरे ने
    महकती सुबहों ने
    मचलती शामों ने
    अकेली रातों में
    अधूरी बातों ने

    तरसती बाहों ने और पूछा है तरसी निगाहों ने
    के घर कब आओगे, लिखो कब आओगे
    के तुम बिन ये दिल सूना सूना है

    संदेशे आते हैं
    हमें तड़पाते हैं
    तो चिट्ठी आती है
    वो पूछे जाती है
    के घर कब आओगे
    के घर कब आओगे
    लिखो कब आओगे
    के तुम बिन ये घर सूना सूना है

    मोहब्बत वालों ने, हमारे यारों ने
    हमें ये लिखा है, कि हमसे पूछा है
    हमारे गाँवों ने, आम की छांवों ने
    पुराने पीपल ने, बरसते बादल ने
    खेत खलियानों ने, हरे मैदानों ने
    बसंती बेलों ने, झूमती बेलों ने
    लचकते झूलों ने, दहकते फूलों ने
    चटकती कलियों ने, और पूछा है गाँव की गलियों ने
    के घर कब आओगे, के घर कब आओगे
    लिखो कब आओगे
    के तुम बिन गाँव सूना सूना है

    संदेशे आते हैं
    हमें तड़पाते हैं
    तो चिट्ठी आती है
    वो पूछे जाती है
    के घर कब आओगे
    के घर कब आओगे
    लिखो कब आओगे
    के तुम बिन ये घर सूना सूना है

    ओ ओ ओ..

    कभी एक ममता की, प्यार की गंगा की
    जो चिट्ठी आती है, साथ वो लाती है
    मेरे दिन बचपन के, खेल वो आंगन के
    वो साया आंचल का, वो टीका काजल का
    वो लोरी रातों में, वो नरमी हाथों में
    वो चाहत आँखों में, वो चिंता बातों में
    बिगड़ना ऊपर से, मोहब्बत अंदर से, करे वो देवी माँ
    यही हर खत में पूछे मेरी माँ
    के घर कब आओगे, के घर कब आओगे
    लिखो कब आओगे
    के तुम बिन आँगन सूना सूना है

    संदेशे आते हैं
    हमें तड़पाते हैं
    तो चिट्ठी आती है
    वो पूछे जाती है
    के घर कब आओगे
    के घर कब आओगे
    लिखो कब आओगे
    के तुम बिन ये घर सूना सूना है

    ऐ गुजरने वाली हवा बता
    मेरा इतना काम करेगी क्या
    मेरे गाँव जा, मेरे दोस्तों को सलाम दे
    मेरे गाँव में है जो वो गली
    जहाँ रहती है मेरी दिलरुबा
    उसे मेरे प्यार का जाम दे
    उसे मेरे प्यार का जाम दे

    वहीं थोड़ी दूर है घर मेरा
    मेरे घर में है मेरी बूढ़ी माँ
    मेरी माँ के पैरों को छू के तू
    उसे उसके बेटे का नाम दे
    ऐ गुजरने वाली हवा ज़रा
    मेरे दोस्तों, मेरी दिलरुबा
    मेरी माँ को मेरा पयाम दे
    उन्हें जा के तू ये पयाम दे

    मैं वापस आऊंगा, मैं वापस आऊंगा
    घर अपने गाँव में
    उसी की छांव में, कि माँ के आँचल से
    गाँव की पीपल से, किसी के काजल से
    किया जो वादा था वो निभाऊंगा

    मैं एक दिन आऊंगा
    मैं एक दिन आऊंगा
    मैं एक दिन आऊंगा
    मैं एक दिन आऊंगा

    मैं एक दिन आऊंगा
    मैं एक दिन आऊंगा
    मैं एक दिन आऊंगा
    मैं एक दिन आऊंगा

    Sandese Aate Hai Lyrics Song Download PDF

    Sandese Aate Hai Lyrics Song Download Notepad

    Song Title : Sandese Aate Hai
    Movie : Border (1997)
    Singers : Sonu Nigam, Roop Kumar Rathod
    Lyrics : Javed Akhtar
    Music : Anu Malik
    Music Label : Venus

    Sandese Aate Hai Border New Song Hindi

    Sandese Aate Hai Lyrics in English & Hindi Border

    Ho ho ho..
    Sandese aate hain
    Humein tadpaate hain
    To chitthi aati hai
    To poochh jaati hai
    Ke ghar kab aaoge
    Ke ghar kab aaoge
    Likho kab aaoge
    Ki tum bin ye ghar suna suna hai

    Sandese aate hain
    Humein tadpaate hain
    To chitthi aati hai
    To puchh jaati hai
    Ke ghar kab aaoge
    Ke ghar kab aaoge
    Likho kab aaoge
    Ki tum bin ye ghar suna suna hai

    Kisi dilwali ne kisi matwali ne
    Humein khat likha hai
    Ki humse puchha hai
    Kisi ki saason ne kisi ki dhadkan ne
    Kisi ki chudi ne kisi ke kangan ne
    Kisi ke kajre ne kisi ke gajre ne
    Mahekti subahon ne machalti shamon ne
    Akeli raaton ne adhuri baaton ne
    Tarasti bahon ne
    Aur puccha hai tarsi nighahon ne
    Ke ghar kab aaoge
    Ke ghar kab aaoge
    Likho kab aaoge
    Ki tum bin ye dil soona soona hai

    Sandese aate hain
    Humein tadpaate hain
    To chitthi aati hai
    Www.Hinditracks.In
    To puchh jaati hai
    Ke ghar kab aaoge
    Ke ghar kab aaoge
    Likho kab aaoge
    Ki tum bin ye ghar suna suna hai

    Mohabbat walon ne hamare yaaron ne
    Humein ye likha hai ke humse puchha hai
    Hamare gaon ne aam ki chaon ne
    Purane peepal ne baraste badal ne
    Khet khaliayanon ne hare maidanon ne
    Basanti belon ne jhumti belon ne
    Lachakte jhulon ne behekte phoolon ne
    Chatakti kaliyon ne
    Aur puchha hain gaaon ki galiyon ne
    Ke ghar kab aaoge
    Ke ghar kab aaoge
    Likho kab aaoge
    Ki tum bin gaaon suna suna hai

    Sandese aate hain
    Humein tadpaate hain
    To chitthi aati hai
    To puchh jaati hai
    Ke ghar kab aaoge
    Ke ghar kab aaoge
    Likho kab aaoge
    Ki tum bin ye ghar suna suna hai

    O o o..

    Kabhi ek mamta ki
    Pyar ki ganga ki
    Vo chitthi aati hai
    Saath vo laati hai
    Mere din bachpan ke
    Khel vo aangan ke
    Vo saaya aanchal ka
    Vo teeka kajal ka
    Vo lori raaton mein vo narmi haathon mein
    Vo chaahat aankhon mein vo chinta baaton mein
    Bigadna oopar se mohabbat andar se
    Kare vo devi maa
    Yahin har khat mein puchhe meri maa
    Ke ghar kab aaoge
    Ke ghar kab aaoge
    Likho kab aaoge
    Ki tum bin aangan suna suna hai

    Sandese aate hain
    Humein tadpaate hain
    To chitthi aati hai
    To puchh jaati hai
    Ke ghar kab aaoge
    Ke ghar kab aaoge
    Likho kab aaoge
    Ki tum bin ye ghar suna suna hai

    Ae guzarne wali hawa bata
    Mera itna kaam karegi kya
    Mere gaon jaa mere doston ko salaam de
    Meri gaon mein hai jo wo gali
    Jahan rehti hai meri dilruba
    Usse mere pyar ka jaam de
    Usse mere pyar ka jaam de
    Wahin thodi door hai ghar mera
    Mera ghar mein hai meri budhi maa
    Mere maa ke pairon ko chhuke
    Usse uske beta ka naam de
    Ae guzarne wali hawa zara
    Mere doston meri dilruba
    Meri maa ko mera payam de
    Unhe jaake ty ye payam de

    Main wapas aaunga
    Main vaapas aaunga
    Phir apne gaon mein
    Usiki chaon mein
    Ki maa ke aanchal se
    Gaon ke peepal se
    Kisike kajal se
    Kiya jo wada tha wo nibhaunga
    Main ek din aaunga
    Main ek din aaunga
    Main ek din aaunga
    Main ek din aaunga
    Main ek din aaunga
    Main ek din aaunga
    Main ek din aaunga
    Main ek din aaunga