खुशी जब भी तेरी

सारी गलियां तेरी जगमगा दूंगा मैं
हर सुबह तेरी ख़ुदको बना दूंगा मैं
सारी गलियां तेरी जगमगा दूंगा मैं
हर सुबह तेरी ख़ुदको बना दूंगा मैं

तू चलेगी जो घर से निकल के कहीं
तो रस्ते में ख़ुदको बिछा दूंगा मैं
ख़ुदा जाने मुझमें तू क्या देखती है
मैं तुझमें ख़ुदा का करम देखता हूं

ख़ुशी जब भी तेरी
ओ ख़ुशी जब भी तेरी
मैं कम देखता हूं
ख़ुशी जब भी तेरी
मैं कम देखता हूं
तो फ़िर मैं कहाँ
अपने ग़म देखता हूं

ख़ुशी जब भी तेरी
मैं कम देखता हूं
तो फ़िर मैं कहाँ
अपने ग़म देखता हूं

कई रोज़ तक पानी
पीता नहीं फ़िर
हां कई रोज़ तक पानी

पीता नहीं फ़िर
मैं जब तेरी आँखों को
नम देखता हूं
ख़ुशी जब भी तेरी

हो तू देखे न देखे हमें ग़म नहीं
मगर तुझको देखे बिना हम नहीं
तू देखे न देखे हमें ग़म नहीं
मगर तुझको देखे बिना हम नहीं

ख़यालों में हरपल ही रहता है तू
ये रहने को ज़िंदा हमे कम नहीं
तेरे साथ के एक लम्हें में भी मैं
तेरे साथ के सौ जनम देखता हूं

ख़ुशी जब भी…
तुझको किया याद
दुनिया भुलाई है
सीने में ऐसी लगन
इक लगाई है
तेरी तन्हाई मेरी
जान पे बन आयी है

मिलने की मांगू दुआ
मिलने की मांगू दुआ
नज़र भरके जब देखता हूं तुझे मैं
तो ज़ख्मों पे दिलके मरहम देखता हूं

ख़ुशी जब भी तेरी
मैं कम देखता हूं
तो फ़िर मैं कहाँ
अपने ग़म देखता हूं

ख़ुशी जब भी तेरी
मैं कम देखता हूं
तो फ़िर मैं कहाँ
अपने ग़म देखता हूं

ख़ुशी जब भी तेरी
ओ…
ख़ुशी जब भी तेरी
ओ…
ख़ुशी जब भी तेरी

Khushi Jab Bhi Teri Lyrics Song Download PDF

Song Credits
Song: Khushi Jab Bhi Teri
Singer: Jubin Nautiyal
Music: Rochak Kohli
Lyrics: A M Turaz

Music Video of Khushi Jab Bhi Teri